विज्ञान/प्रविधि




  • वाई फाईसे सय गुना तेज हए लाई फाई



    रौतहट अगहन १६ ।
    अब डाटा ट्रांसफरके लेल अईसन तकनीकी आ चुकल हए की जोन वाई फाईके मुकावला सय गुना तेज हए । लाइ फाईके इहे हप्ता एस्तोनीयके टालीनमे परिक्षण कएल गेल हए । लाई फाईसे वाई फार्ईके मुकÞाबला एप सय गुना तेज इंटरनेट चला सकईत हए और एकर रफतार एक गिगाविट

    प्रति सकेन्ड तकके होसकईत हए । स्टार्टअप कंपनी वेलमेनीके सह संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी दीपक सोलंकी बीबीसीके बतएलक की ई तकनीक काल ड्राप जइसन समस्याके लेल रामवाण सावीत हो सकईत हए । 

    दीपक सोलंकी बतएलन की उनकर कम्पनी एस्टोनियमे प्रंजीकृत हए लेकिन एकर पुरा टिम भारतमे हए । उनकासे पुछलापर भारतमे एकर जिम्मेवार व्यक्ति नमिल्ल, अढाई साल पहिले हुन कोशिश कऐ रहलन लेकिन सहयोगी नभेल आ ईहाँ उनका कपोल कल्पना बताके नकार देले रहे । लाई फाई चलावेके लेल अपनेके चाहि, बिजुलीके एगो श्रोत जोनासे  एलईडी बल्ब, इंटरनेट कनेक्शन और एक फटो डिटेक्टर ।

    वेलमेनी एक गीगाबिट प्रति सेकेंडके तेजीसे डाटा भेजेके लेल एगो लाई फाई बल्बके प्रयोग कएलन । परीक्षणमे पता चलल कि सैद्धांतिक तौर पर ई रफतार २२४ गीगाबिट प्रति सेकेंड तक होसकइत हए । 

    ई परीक्षण एगो औफीसमे कएल गेल ताकी  कर्मचारी इंटरनेट चला सके । साथ ही एगो औद्योगिक क्षेत्रमें भी एकर परीक्षण भेल जहाँ ई एगो स्मार्ट लाइटिंग सोल्यूशन मुहैया करवएलक ।

    सोलंकीके मुताबिकÞ ई तकनीक तीनसे चार सालमे उपभोक्त तक पहुंच जाई । हुन ई कहलन की लाई फाईके प्रयोगके लेल मोबाईल पर एगो डिवाइस लगानी होई पर भविष्य में ई वाई फाईऔर ब्लूटूथके जइसन मोबाइलमें ही इनबिल्ट होई ।  जहां रेडियो तरंगके लेल स्पेक्ट्रमके सीमा हए, उहे विजुÞिबल लाइट स्पेक्ट्रम १०,००ा्ण् गुना ज्Þयादा व्यापक हए । एकर मतलब ई हए कि एकर निकट भविष्यमे खत्म होएके संभावना नरहल हए । 

    एकर के लाइट पल्सेजÞमें एन्कोड कएल जासकईत हए जइसे  रिमोट कंट्रोलमें होइअ । एलईडी ब्रोडबैंड कनेक्शनके लेल पर्याप्त डाटा ट्रांसमिट करेमें सक्षम हए और फिर भी ई सामान्य दूधिया रोशनीके तरह देखाल जाईअ । 

    लाई फाई शब्दके प्रयोग सबसे पहिले एडिनबरा विश्वविद्यालयके प्रोफसर हेराल्ड हास कएले रहलन । हुन २०११मे टैड ( टेक्नोलोजी, एंटरटेनमेंट एंड डिजाइन) कांफ्रेंसमें एकर प्रदर्शन कएले रहलन । हुन एक एलईडी बल्बसे भीडियो भेजके देखएले रहलन । उनकर  प्रस्तुतिके कÞरीब २० लाख बार देखल जाचुकल हए । 

    प्रोफसर हास अइसन भविष्यके कल्पना कएले रहलन जब बिजुलीके अरबों बल्ब वायरलैस होटस्पोट बन जाई । 

    लाई फाईके बहुत लाभ ई हए की ई वाई फाईके तरह दूसरा रेडियो सिग्नलमें खलल न पुगाई । ईहे कारण हए की एकर प्रयोग विमान स्थत और दोसरा अईसन स्थानमे पर कएल जासकईत हए ।  

    लेकिन इ तकनीकके कुछ कमजोरी भी हए । एकर सवसे बड़ा कमजोरी ई हए की एकरा घरके वाहर रउदमे प्रयोग नकएल जासकईत हए काहेकी सुर्यके किरण एकरा सिग्नलमे दखल देईअ । ई तकनीक देवालके आरपार प्रयोग नकएल जासकईत हए । ई शुरुआतमे वाई फाई नेटवर्कके पुरकके रुपमे काम करी । बीबीसी





  • वृहस्पतीके नयाँ तस्वीर सार्वजनीक कएले हए नासा - 2016-09-07

    अमेरिकी अन्तरीक्ष संस्था नासा सौर्यमण्डलके सबसे लम्हर ग्रह बृहस्पतीके नयाँ तस्वीर सार्वजनिक कएले रहे । जूनो नामक भूउपग्रहसे खिचल गेल नयाँ तस्वीरसव नासा सार्वजनिक कएले हए । ई तस्वीरसवमे वृहस्पतीके दुनु ध्रुवमे ग्यासके लम्हर लम्हर बादलसव घुमईत रहेके नासा जनएले हए ।


    रौतहटमे पहिलवार लावा मोवाईल आ स्थानिय रिटेलसव साथके अन्तरक्रिया - 2016-02-06

    रौतहट जिल्लामे पहिलवेल मोवाईल कम्पनी आ स्थानिय विक्रेता साथे अन्तरक्रिया कार्यक्रम सम्पन्न भेल हए । भारतीय कम्पनी लावा मोवाईलके नेपालमे सप्लाई करेवाल अम्वे ग्रुप रौतहट जिल्लाके स्थानिय मोवाईल विक्रेता सव साथे लावा मोवाईलके


    ‘छोटा मानव’ समाजीक संजाल पर भायरल - 2016-01-31

    आजकल व्हाट्सअप्पसे लेके फेसबुक और ट्विटर पर एगो अजीब जीवके फोटो भायरल होरहल हए जेकरा ‘छोटा मानव’ कहला जारहल हए । सोशल मीडियाके मुताबिक जोधपुरके बावड़ी गावमें ट्यूबवेल (कल)काडेकेले खोदाईके दौरान निकल्ल हए


    वैज्ञानिकसव नया ग्रह खोजले दावा कएले हए - 2016-01-25

    अमरीकाकें अंतरिक्ष वैज्ञानिकके कहनाम हए कि हुन सौर मंडलमें एगो नया ग्रह खोजले हए जोन आकारमें पृथ्वीके मुकाबला दस गुना बड़ा हए । कैलिफोर्निया इंस्टीट्यूट अफ टेक्नोलाजीके शोधकर्ता ओकरा अभी प्लानेट नाइन कह रहल हए ।


    वाई फाईसे सय गुना तेज हए लाई फाई - 2015-12-02

    अब डाटा ट्रांसफरके लेल अईसन तकनीकी आ चुकल हए की जोन वाई फाईके मुकावला सय गुना तेज हए । लाइ फाईके इहे हप्ता एस्तोनीयके टालीनमे परिक्षण कएल गेल हए । लाई फाईसे वाई फार्ईके मुकÞाबला एप सय गुना तेज इंटरनेट चला सकईत हए और एकर रफतार एक गिगाविट


    बांह पर ११ तिल, सावधान होजाउ ! - 2015-10-28

    अध्ययनके मुताबिकÞ यदि आपनेके एगो बांह पर ११ से जादाँ तिल हए त अपनेके गम्भीर किसिमके त्वचा कैंसर यानी मेलेनोमा होएके खÞतरा हए । ब्रिटेनके एगो पत्रिका डर्माटोलोजीमे प्रकाशित ई अध्ययन


    पृथ्वी १५ दिन तक अनहार - 2015-10-08

    पुरे पृथ्वी लगातार १५ दिन तक अन्हार रहेको सामाचार प्राप्त भेल हए । अमेरिकाके स्पेस संगठन नासाके हवाला देईत पृथ्वी १५


    कि अपन मोवाईलके सिम कार्डके सुरक्षित कईली ? - 2015-10-05

    अगर अपने अपन स्मार्टफोनके डाटाके एन्क्रिप्ट कएले छि त या अपन स्मार्टफोनके पिनसे लक कएले छि, तव भी कोई अपनेके सिम कार्ड निकालके अपनेके वारेम बहुत सारा जानकारी हासिल कर सकईत हए । अगर अपने अपन एंड्रोयड फोनके सुरक्षाके लेकेर चिंतित छि त अपने अपन स्मार्टफोनके सिमके लाक करेके सोच सकइत छि ।


    लोककथा - 2015-08-14

    आशुतोष साह/ एगो गाँओमे दुगो चोर रहे । एगोटेके नाओ रहे मोसाफिर आ दोसराके नाओ रहे रमुआ । दुनुजने सङ्हतिया रहे । दुनु साथीके गुजर गुजरान चोरिएसे चलइत रहे ।


    इंसानी दिमागके टक्कर देवे वाला रोबोट - 2015-08-14

    अमरीकी अनुसन्धाकर्ता सव एगो अइसन रोबोट ब्रेन बनएले हए जे इन्टरनेट पर लाखो वेभ पेजके ब्राउजर बनाके नयाँ नयाँ हुनर सिखा सकइत हए ।

बज्जिका वाणी

2072-08-08
2070-01-22 .pdf

बिकाश चौतारी

BC 2073-05-06
BC 2073-05-06
BC 2073-04-31
2072-08-28

जिल्ला प्रहरी का. - ५२००९९
जिल्ला प्रहरी का. - ५२०१७७
-


Desing and Developed by